Inspiration

जाने जीवन से जुड़े ये पांच रहस्य, जो भगवान शंकर ने बताये थे माता पार्वती को...

वाराणसी: माता सती ने अपना दूसरा जन्म देवी पार्वती के रूप में लिया था। पार्वती राजा हिमावत और रानी मैना की पुत्री थी। बचपन से ही पार्वती जी का सपना था कि शिव जी उन्हें पति के रूप में प्राप्त हों। यहां तक की देवर्षि नारद ने भी इस बात की भविष्यवाणी कर दी थी कि महादेव ही देवी पार्वती के पति होंगे। जैसे जैसे वे बड़ी होती गयीं शिव

बैसाखी 2018: जानिए वैशाखी कब, क्या है इसका महत्व

वैशाखी बैसाख से बना है। वैशाखी का त्योहार पंजाब हरियाणा सहित अन्य कई स्थानों पर व्यापक स्तर पर मनाया जाता है। वैशाखी को पंजाब और हरियाणा में किसान फसल काटने के बाद नए साल की खुशियां मानते हैं। इसलिए बैसाखी पंजाब और हरियाणा के आसपास के क्षेत्रों में सबसे बड़े त्योहार के तौर पर मनाया जाता है। वैशाखी रबी फसल के पकने की खुशी में मनाया जाता है। 2018 में