Pregnancy-Parenting

बच्चों की सोने की पोजीशन पर अधिक से अधिक  दें ध्यान, वरना हो सकते हैं नुकसान...

नई दिल्ली  :   बच्चे की अच्छी देखभाल करना हर माता पिता का कर्त्तव्य होता है। साथ ही यह सबसे बड़ी ज़िम्मेदारियों में से एक होता है लेकिन यह भी एक सत्य है कि इस ज़िम्मेदारी को बखूबी निभाना आसान नहीं होता। बच्चे के पालन पोषण का ज़िम्मा तब से शुरू हो जाता है जब से वह अपने माँ के गर्भ में पलने लगता है। हालांकि पूरे नौ महीने बच्चा अपने

गर्भ में पल रहे बच्चे को भी हो सकती है, किडनी से जुड़ी ये परेशानी...

नई दिल्ली  :  शारीरिक क्रियाएं प्रमुख तौर पर किडनी के कार्य पर निर्भर करती हैं। इसमें हल्‍का-सा कोई विकार आने पर शरीर के अन्‍य हिस्सों की कार्यप्रणाली पर असर पड़ सकता है। अगर किडनी स्‍वस्‍थ हो तो वो शरीर में पानी की मात्रा को नियंत्रित करती है। किडनी के सही तरह से कार्य करने के लिए शरीर में पानी की संतुलित मात्रा होना बहुत जरूरी है। शरीर से अत्‍यधिक पानी

जानिए अपने शिशु की साफ सफाई करने के अनेक तरीके....

नई दिल्ली  :  बच्‍चे की साफ-सफाई का ध्‍यान रखना मां की सबसे बड़ी जिम्‍मेदारी होती है। हम में से कई लोग शिशु को नहलाने को लेकर बहुत सजग रहते हैं और शिशु की कोमल त्‍वचा का ध्‍यान रखने के लिए कई उत्‍पादों का इस्‍तेमाल करते हैं। कई माएं शिशु को नहलाते समय कुछ ऐसी गलतियां कर देती हैं जो बच्‍चे की त्‍वचा को नुकसान पहुंचा सकती है। आइए जानते हैं

सी-सेक्‍शन के बाद भी नॉर्मल डिलीवीरी है संभव ,जाने सच...

नई दिल्ली  :   सिजेरियन या सी-सेक्‍शन एक सर्जिकल प्रक्रिया है जो कि शिशु के जन्‍म के दौरान की जाती है। इस चिकित्‍सा में मां के पेट और गर्भाशय में चीरा लगाकर नवजात शिशु को बाहर निकाला जाता है। प्रसव के दौरान कोई मुश्किल आने या शिशु एवं मां की जान को खतरा होने की स्थिति में सी-सेक्‍शन की सलाह दी जाती है।अब से पहले कई कारणों की वजह से सी-सेक्‍शन

पिता बनने के बाद फ्रेंड सर्किल से दूर होने लगते हैं पुरुष...

नई दिल्ली  :  जिंदगी में पहली बार पिता बनना पुरुषों के लिए दुनिया के सबसे बेहतरीन अनुभवों में से एक होता है। ये एक लाइफ चेंजिंग पल होता है जो आगे चल कर चैलेंज में तब्दील हो जाता है। ये एक ऐसा समय होता है जब आपको अपने जीवनसाथी के साथ परिवार और दोस्तों के मदद की बहुत जरूरत होती है। मगर हाल ही में आए एक सर्वे से ये

बच्चो की ज्यादा मीठा खाने की आदत को इन सरल तरीको से छुड़ाए...

नई दिल्ली  :  बच्‍चों को शुगर का सेवन कम कराना वाकई में चुनौतीपूर्ण काम है क्‍योंकि बच्‍चों को पसंद आने वाली अमूमन सभी चीजों में मीठा मौजूद होता है। कैंडी और चॉकलेट में ही नहीं बल्कि जूस, नाश्‍ते में लेने वाले अनाज, फ्लेवर्ड योगर्ट आदि में चीनी होती है। इन चीजों में मौजूद चीनी का सेवन करना हानिकारक होता है। इससे दांतों में कीड़े लग सकते हैं और मोटापे, हाइपरटेंशन,

घर पर करें  DIY  शुगर प्रेगनेंसी टेस्ट...

नई दिल्ली  : मां बनना एक स्‍त्री के जीवन का सबसे बड़ा सुख होता है। प्रेगनेंसी की खबर सुनते ही मन में खुशी की लहर दौड़ पड़ती है। अगर आप भी गर्भधारण करने की सोच रही हैं तो बता दें कि आप घर पर ही बड़ी आसानी से प्रेगनेंसी टेस्‍ट कर सकती हैं। ऐसे कई DIY प्रेगनेंसी टेस्‍ट हैं जिन्‍हें आप आजमा सकती हैं।घर पर प्रेगनेंसी टेस्‍ट करने के तरीकों

जानिए आपके बच्चों के लिए हैंड सैनिटाइजर सुरक्षित है या नहीं....

नई दिल्ली  :  हर मां अपने शिशु को कीटाणु से दूर रखना चाहती है। आखिरकार शिशु आसानी से संक्रमण की चपेट में जो आ जाते हैं। बच्चे फर्श पर खेलते हैं, जमीन पर घुटनों के बल चलते हैं और फिर वही गंदी उंगली अपने मुंह में ले लेते हैं। ऐसी स्थिति में ज्यादातर माएं हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करती हैं ताकि बच्चे को जर्म्‍स से दूर रखा जा सके। लेकिन

घर का काम करने वाले बच्‍चे होते हैं ज्‍यादा सफल, बनते हैं टीम लीडर....

नई दिल्ली :  अगर आपके बच्‍चे भी आपके एक बार कहने पर ही घर के काम कर देते हैं तो समझ लें कि आप बहुत खुशनसीब हैं। वहीं दूसरी ओर, अगर आपके बच्‍चों को घर के काम करना बोरिंग लगता है तो ये आपकी जिम्‍मेदारी बनती है कि आप उन्‍हें घर के काम करना सिखाएं। हाउ टू रेज़ एन एडल्‍ट के लेखक जूली लिथकोट ने टेड टॉक शो पर एक

प्रेगनेंसी में ज्‍यादा आलू खाने से हो सकता है डायब‍िटीज का खतरा...

नई दिल्ली :  प्रेगनेंसी के दौरान ज्‍यादा आलू खाने से डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है। एक रिसर्च में ये बात सामने आ चुकी है ज्‍यादा आलू खाने से महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान गर्भावधि मधुमेह होने का डर रहता है। जो मां के साथ ही गर्भस्‍थ शिशु के ल‍िए भी मुसीबत बन सकता है। प्रेगनेंसी के दौरान खान पान का ध्‍यान रखना बहुत जरुरी होता है। गर्भावधि मधुमेह खून