घर में बच्चे हैं तो आपकी फर्स्ट एड किट में ये सामान जरुर होने चाहिए…..

घर में बच्चे हैं तो आपकी फर्स्ट एड किट में ये सामान जरुर होने चाहिए.....

नई दिल्ली  :  छोटे बच्‍चों को अकसर खेलने के दौरान चोट लग जाती है। बच्‍चों को अपना काम करना सिखाते समय उन्‍हें कई बार चोट लग जाती है या वो फिर उनका हाथ जल जाता है। अगर उस समय पर सही इलाज ना दिया जाए तो ये छोटी-छोटी परेशानियां बड़ा रूप ले सकती हैं। इसलिए आपको अपने घर में फर्स्‍ट एड किट रखना चाहिए। आइए जानते हैं कि घर पर यदि बच्चे हैं तो फर्स्ट एड किट में आपको कौन से जरूरी सामान रखने चाहिए।फर्स्‍ट एड किट में कॉटन बैंडेज, रूई, बैंडेज, कैंची, एंटीसेप्टिक क्रीम, पेन किलर और एंटीसेप्टिक लिक्विड आदि होना चाहिए। इसके अलावा अपने नजदीकी अस्‍पताल का नंबर, एंबुलेंस का नंबर और फैमिली डॉक्‍टर का नंबर नोट करके रखें।

कई बार बच्‍चे गिर जाते हैं इसलिए घर में बैंडेज जरूर रखें। छोटी-मोटी चोट या इंफेक्‍शन से बचने के लिए अपने घर में बैंडेज रखना जरूरी है। अकसर खेलते हुए बच्‍चों को चोट लग जाती है। ऐसे समय पर बैंडेज बहुत काम आती है। बच्‍चों के लिए वॉटरप्रूफ बैंडेज रखें।कई बार बच्‍चों को कोई बड़ा घाव हो जाता है जिसमें से लगातार खून बहने लगता है। इससे बचने के लिए चोट पर बैंडेज लगाना जरूरी होता है।

इससे घाव जल्‍दी सूख जाता है और फैलता नहीं है एवं जल्‍दी सूख जाता है। इससे बचने के लिए सिप्‍लाडिन, बीटाडिन आदि जैसी दवाएं रखें। घाव को साफ करके उन पर तुरंत क्रीम लगा दें।कभी-कभी गलती से बच्‍चों का हाथ या पैर जल जाता है। अगर थोड़ा सा ही जला है तो उस पर 5 मिनट के लिए ठंडा पानी डालें और फिर उसे सूती या किसी मुलायम कपड़े से साफ कर दें। इसके बाद बोरोप्‍लस, बरनोल जैसी एंटीसेप्टिक क्रीम लगाएं।बच्‍चों को बहुत जल्‍दी सर्दी जुकाम होता रहता है। बुखार में शरीर का तापमान जांचने के लिए थर्मोमीटर की जरूरत पड़ती है। अपने घर में थर्मोमीटर जरूर रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *