टी बैग को फैंकने की बजाय घरेलू काम में करें रियूज

टी बैग को फैंकने की बजाय घरेलू काम में करें रियूज

नई दिल्ली : हमारे दिन की शुरुआत चाय या कॉफी के कप से होती है। सुबह की चाय अगर मजेदार हो तो दिन भी बहुत अच्छा बीतता है। होटल हो या घर अब धीरे धीरे हर जगह टी बैग्‍स का यूज होने लगा है। हम रोजाना टी बैग्स का इस्तेमाल करते हैं। ग्रीन टी हो या ब्लैक टी। पर टी बैग्स एक बार चाय बनाने के बाद बर्बाद हो जाते हैं, और हम उसे फेंक देते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि टी बैग्स चाय बनाने के अलावा भी बहुत काम आते हैं। चाय बनाने के बाद भी टी बैग्स बहुत काम आ सकते हैं। रियूज करें यूज्ड टी बैग्स- पास्ता, बच्चे हो या बड़े पर एक बाउल चीज पास्ता को देखकार सभी के मुंह में पानी आ जाता है। पास्ता या ओट्स बनाने से पहले, उसे जैस्मीन या ग्रीन टी बैग के साथ रखें। टी बैग से पास्ता और टेस्टी बनेगा। ये एक्सपेरीमेंट तभी करें जब आपको नई-नई चीजें खाने का शौक हो। फ्रिज की बदबू से हम काफी परेशान रहते हैं|कई बार हफ्तों निकल जाते हैं और हम फ्रिज की सफाई नहीं कर पाते। ऐसे में फ्रिज से बदबू आना तो लाजमी है। पर टी बैग्स से इस समस्या को आसानी से सुलझाया जा सकता है। इस्तेमाल किए हुए टी बैग्स को फ्रिज में रखें।

इसके अलावा ड्राई टी बैग को अगर ऐश ट्रे या डस्टबिन में रखा जाए तो इनकी भी बदबू दूर हो जाती है|ग्रीन टी या पेपरमिंट टी के टी बैग्स को हल्के गर्म पानी में भिगोएं। अब इसे रूम टेमप्रेचर पर ठंडा करें, आपका घर पर बना नैचुरल अल्कोहल फ्री माउथवाश तैयार है।टी बैग्स से आप अपनी खिड़कियों के शीशे और ड्रेसिंग टेबल के आईने को भी साफ कर सकते हैं। यूज्ड टी बैग्स को खिड़कियों और ड्रेसिंग टेबल के शीशों पर रगड़ें, खिड़कियों और शीशे बिल्कुल नए जैसे हो जाएंगे। एक ड्राई टी बैग लें और अपने मनपसंद ऑयल की कुछ बूंदें डालें। आपका होम-मेड ऐयरफ्रेशनर तैयार है। इसे अपने कार, किचन या बाथरूम कहीं भी लगाएं। चूहे यानि की आफत का दूसरा नाम. ये समस्या बहुत ही आम है. पर इन छोटे शैतानों से निजात पाना उतना ही मुश्किल है. पर छोटे से टी बैग से आप चूहों से निजात पा सकती हैं|

ड्राई, अनयूज्ड टी बैग्स को अल्मारी, क्लोजेट, रैक कहीं पर भी रखें, चूहों की आवाजाही पर रोक लग जाएगी। टी बैग्स में पेपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदें डाल दें तो मकड़ी और चींटियों से भी निजात पाया जा सकता है। पेपर या कपड़े को भी टी बैग्स से डाई कर सकते हैं। इससे पेपर और कपड़ों को ऐंटिक लुक दिया जा सकता है। टी बैग्स को पानी में उबालें अाैर कुछ देर के लिए ठंडा करें। अब इसमें एक नर्म कपड़े को भिगोएं और लकड़ी के फर्नीचर या फर्श को इससे साफ करें। सूखे कपड़े से पोंछ लें, फर्नीचर नए जैसे हो जाएंगे। बर्तनों से चिकनाई हटाना किसी युद्ध जीतने से कम नहीं है. जिद्दी दाग हटाने में बहुत मेहनत लगती है। पर टी बैग्स से आप ये काम भी आसानी से कर सकती हैं। सिंक में हल्का गर्म पानी और 2-3 यूज किए हुए टी बैग्स डालें। इससे बर्तनों की चिकनाई कम हो जाएगी और आपको बर्तन धोने में आसानी होगी। टी बैग को ऐसे फैंके नहीं, इन्‍हें पौधों की खाद में मिला दे। इससे खाद उपजाऊ बनते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *