सिख को रेस्टोरेंट में नहीं जाने दिया, फिर किया विरोध करने पर मांगी माफ़ी ,जानिए पूरा मामला….

सिख को रेस्टोरेंट में नहीं जाने दिया, फिर किया विरोध  करने पर मांगी माफ़ी ,जानिए पूरा मामला....

नई दिल्ली  :  दिल्ली के एक सिख व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि उसे दिल्ली के वी कुतुब रेस्तरां में उसके धर्म और पहनावे के कारण प्रवेश नहीं करने दिया गया। परनाम साहिब ने इंस्टाग्राम पर रेस्तरां के कर्मचारियों पर उनके साथ और उनके मित्र के साथ शनिवार रात दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया।

उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट में लिखा : “आज देर शाम मुझे और मेरे मित्रों को वेबकुतुब के परिसर के अंदर प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई, क्योंकि मैं सरदार हूं। यह भी कारण बताया गया कि मैं अन्य हिंदू ग्राहकों की तरह पर्याप्त रूप से कूल नहीं हूं।”उन्होंने आरोप लगाया कि उनके महिला मित्रों के साथ रेस्तरां के काउंटर पर बैठे व्यक्ति ने बुरी तरह बात की और उसका रवैया ठीक नहीं था। परनाम ने कहा, “काउंटर पर बैठे व्यक्ति ने कहा कि हम सिख लोगों को लाउंज में प्रवेश नहीं करने देते और वह उनका मोटो है।

बाद में उसने इसमें सुधार करते हुए कहा कि उसे मेरा पिंक शर्ट पसंद नहीं था।”उन्होंने आईएएनएस से कहा, “इंस्टाग्राम पर घटना के बारे में पोस्ट डालने के बाद अब रेस्तरां के मालिक हमसे संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं, उन्हें दुख हो रहा है। उन्होंने मुझसे इंस्टाग्राम पर भी संपर्क कियां। हम बीच के रास्ता निकाल कर इस मामले को उनकी माफी के साथ खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि जब हमने इंस्टाग्राम पर पोस्ट डाला, कई लोगों ने वी कुतुब में इसी तरह की घटना के बारे में मुझे संदेश भेजे।

“उन्होंने कहा, “मालिक दुबई में है और उसे सॉरी बोलने की फिक्र नहीं है। उसे इस घटना के बारे में कोई चिंता भी नहीं है।” परनाम ने कहा, “हमने उनसे कहा कि एक आधिकारिक माफी पोस्ट करें और 100 गरीब बच्चों को लंगर खिलाएं। हम अभी भी उनसे बात कर रहे हैं। मैं नहीं चाहता कि यह किसी और के साथ हो। मैं चाहता हूं कि वे इसे बंद करें।” आईएएनएस ने वी कुतुब के मालिक से संपर्क किया, लेकिन उनकी तरफ से आरोपों पर कोई जवाब फिलहाल नहीं आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *